Blogging kya hai blog kaise banaye

आशा करता हू की आप लोग बहोत अच्छे होंगे दोस्तों आज हम जानेंगे कि Blogging kya hai इसे कैसे शुरू करे, वेबसाइट क्या हैं, गूगल और वर्डप्रेस पर ब्लॉगिंग कैसे करे। ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे लाए, इससे अच्छा-खासा पैसा कैसे बनाए।

कुछ समय से ब्लॉगिंग की चर्चा बहोत हो रहा है। इस फील्ड मे अच्छा जानकारी ना होने के कारण लोग ब्लॉग शुरू करने से डरते हैं। जिनका ब्लॉग चल रहा है वो भी लंबे समय से पैसा ना आने के कारण बंद कर देते हैं।

इसके लिए मैंने सोचा कि ब्लॉगिंग के बारे मे सबको बताया जाए। इसको बनाना बहोत आसान है आपको एक टॉपिक पर पूरा जानकारी देना आना चाहिए। ब्लॉगिंग मे कहा किस टूल्स का उपयोग करते है सब पता होना चाहिए, अगर आप blogging kya hai सीखना चाहते है तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ना चाहिए।

Blogging kya hai- ब्लॉगिंग क्या हैं

ब्लॉगिंग एक व्यक्ति या किसी कंपनी द्वारा किया जाता हैं, एक टॉपिक या अलग-अलग निश पर रोज या सप्ताह मे एक बार पोस्ट अपलोड करना ही blogging कहलाता हैं। इसमें लेख लिखना इमेज, edit और SEO करना पड़ता है, इस लेख को इन्टरनेट पर पब्लिश करते रहना है।

Blogger Kaun hai kaise bane

ब्लॉगर एक ब्लॉग और वेबसाइट का मालिक हैं, अपने ब्लॉग पर रोजाना कंटेंट लिखता और मैनेज करता हैं उसे ही ब्लॉगर कहते हैं। ब्लॉग का promoting करना, वेबसाइट से जुड़ी लोगों को सेवाएं प्रदान करना, अच्छी जानकारी देना ही ब्लॉगर का काम हैं। इसे फालो करके आप ब्लॉगर बन सकते हो।

Blog kya hai- ब्लॉग क्या है

ब्लॉग एक तरह का वेबसाइट है, जहाँ पर कंटेंट को रोज अपलोड और अपडेट किया जाता है। यह एक डायरी की तरह होता है जिसमें एक व्यक्ति अपने विचारो या एक विशेष टॉपिक पर लेख लिखता है। इसे यूजर इन्टरनेट से एक्सेस करके पढ़ सकता हैं।

ब्लॉगिंग करने के लिये बेस्ट प्लेटफॉर्म

WordPress (वर्डप्रेस)

यह दुनिया का सबसे प्रचलित एक CMS (content management system) हैं। आज दुनिया भार मे 16 मिलियन से भी ज्यादा लोग इसे उपयोग कर रहे है। इसे उपयोग करना बहोत आसान है, इसको टेक्निकल और नॉन-टेक्निकल व्यक्ति भी चला सकता है।

वर्डप्रेस CMS एक यूजर फ्रेंडली और SEO फ्रेंडली भी है, इसमे आप फ्री वेबसाइट और ब्लॉग बना सकते हो, इस CMS में अपने हिसाब का थीम और add लगा सकते हो। WordPress में website और blog बनाने के लिए दो ऑप्शन उपलब्ध हैं।

WordPress.com

इसमे आपको ब्लॉगिंग करने में बहोत लिमिटेड ऑप्शन मिलते है, बिगनर के लिए यह ऑप्शन बहोत अच्छा हैं।

WordPress.org

अगर आपको प्रोफेशनल ब्लॉगर बनना है तो आपको दूसरा ऑप्शन ही लेना चाहिए। इसमे अपने तरीके का थीम, add और प्लगिन चुन सकते हैं।

Blogger (ब्लॉगर)

इसमे सबसे बड़ा फायदा है कि यह गूगल का प्रोडक्ट हैं और इसका उपयोग करना बहोत आसान हैं। ब्लॉगर का उपयोग बिल्कुल फ्री है, इसमे डोमेन नेम लेना आपके ऊपर हैं ले भी सकते है और नहीं भी। अपने ब्लॉग को Blogspot.com पर बना सकते है, इसमे गूगल अकाउंट और गूगल आई.डी. का उपयोग होता हैं।

Medium ( मीडियम)

मीडियम एक फ्री प्लेटफॉर्म है जहां अकाउंट बनाकर ब्लॉग लिखना शुरू कर सकते हैं। इस प्लेटफॉर्म पर भी ट्रैफिक बहोत आते है, अगर आपको प्रोफेशनल ब्लॉगर बनना है तो इसपर ब्लॉगिंग शुरू कर देना चाहिए। इसपर से ब्लॉग पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करके अपने फालोवर्स बढ़ा सकते हैं।

Tumbler ( टम्बलर )

टम्बलर का भी नाम एक कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम मे अग्रसर होता दिख रहा है। यह माइक्रो निश के लिये उपयोग किया जाता है इसपर शॉर्ट कंटेंट, स्टोरीज, कैप्शन और इमेज अपलोड किया जा सकता है। इसमे ब्लॉग कस्टमाइज के लिए उपयुक्त ऑप्शन उपलब्ध हैं।

ब्लॉग के प्रकार

Personal blog (Personal blog)

इस ब्लॉग मे व्यक्ति अपने अनुभव और टॉपिक के बारे मे लिखता हैं। जो 1990 से शुरूआत हुआ था, यह एक डायरी की भाँति होता है जिसमें अपने दिनचर्या के बारे मे लिखता हैं। इसको इन्टरनेट पर नहीं देखा जा सकता है।

Professional blog ( प्रोफेशनल ब्लॉग)

इसे एक व्यक्ति,कंपनी या संस्था के द्वारा चलाया जाता है। इसमे ब्लॉगर अपने कंपनी का प्रोडक्ट और सेवाओं से जागरूक और ग्रोथ को बढ़ाते हैं। इसमें एक या अधिक ब्लॉगर अपने व्यवसाय का प्रमोशन करते हैं।

Niche blog (निश ब्लॉग)

इसमे संस्थाएं एक विशेष टॉपिक या इंडस्ट्री को टार्गेट करते हैं। जिससे हमारे प्रोडक्ट और सेवाओं के बारे मे लोग जान सके। इस सेवाओं से संबंधित लोगो का भारी मात्रा मे ट्रैफिक आता रहे। तुम्हारा लिखने की क्वालिटी उस निश से मिलता रहे और कस्टमर को वैल्यू प्रदान करे।

Affiliate blog ( एफिलिएट ब्लॉग )

इस प्रकार का ब्लॉग कमाई करने का एक अच्छा तरीका हैं। इसमे कस्टमर क affiliate link के द्वारा प्रोडक्ट और सेवाओं को प्रदान करते हैं। इसमें ब्लॉगर को उस कंपनी और प्रोडक्ट के बारे मे अच्छा जानकारी होना चाहिए। एक अच्छा एफिलिएट प्रोडक्ट चुनना ताकि कस्टमर को वैल्यू मिल सके।

ब्लॉग और वेबसाइट मे अन्तर

इन दोनों मे ज्यादा अन्तर तो नही है,

Blog ( ब्लॉग )

जैसा कि आपको पहले ही बताया है ब्लॉग एक वेबसाइट का प्रकार हैं। जहाँ पर कंटेंट रिवर्स क्रोनोलाजिकल( पहला पोस्ट नीचे रहेगा) क्रम मे उपस्थित रहता है। यह ब्लॉग पोस्ट के रूप मे रहता है और रोजाना अपडेट करना पड़ता हैं। ब्लॉगर इसे पर्सनल और बाद मे व्यवसाय के लिये उपयोग करने लगे। जिससे इनके सेवाओं और जानकारी को लेकर उनसे जुड़ सके। ब्लॉग एक वेबसाइट या किसी ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म पर बना सकते हैं।

Website (वेबसाइट)

यहाँ पर जानकारी Static( कंटेंट को बदल नहीं सकते) और Dynamic (कंटेंट को अपने इच्छानुसार बदल सकते है) होता हैं। इसके जानकारी को बार-बार बदलना नहीं पड़ता हैं जो वेब- पेज के रूप मे रहते है। वेबसाइट की जानकारी बहोत कम रहता है जैसे contact-us, about-us के रूप मे रहता है।

ब्लॉगिंग कैसे शुरू करे

सबसे पहले आपको ब्लॉगिंग क्या है इसके बारे मे थोड़ा बहोत जानकारी अवश्य होना चाहिए। किसी एक सब्जेक्ट (निश) के बारे मे अच्छा ज्ञान के साथ रुचि भी हों। अगर फ्री में ब्लॉगिंग करना है तो blogger platform एक बेस्ट ऑप्शन है।

प्रोफेशनल ब्लॉगिंग करने के लिये WordPress platform बहोत अच्छा हैं। इसके बाद एक Domain और hosting की जरूरत पड़ती है, इसके लिए बहोत से संस्थाएं है जो फ्री और पैसों लेकर सेवाएँ प्रदान करते है। ब्लॉग से अच्छा पैसा कमाना है तो फ्री मे मत लो।

डोमेन और होस्टिगं को जोड़कर ब्लॉग को सेटअप करे। अब कंटेंट लिखने के लिए एक लैंग्वेज को चूज़ करना जो आपको बहोत अच्छे से आता हो। आप ब्लॉग लिखने के लिए पूरी तरह से तैयार है, कॉपी पेस्ट कंटेंट कभी मत लिखो जितना हो सके यूनीक कंटेंट लिखो।

ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे लाए

कीवर्ड रिसर्च अच्छे से करे, ब्लॉग टाइटल का कीवर्ड डिफिकल्टि जितना कम और कैंची होना चाहिए। जिससे ज्यादा यूजर क्लिक करेंगे, कंटेंट पूरी तरह से यूनीक होना चाहिए। ऑर्गेनिक ट्रैफिक लाने के लिए अपने ब्लॉग पर इंटरनल लिंक लगाते है।

सेम निश की वेबसाइट पर backlink, गेस्ट पोस्ट से ट्रैफिक बढ़ाया जा सकता हैं। इमेज, फोरम पोस्ट, वीडियो submission करके भी ऑर्गेनिक ट्रैफिक लाया जा सकता है। वेब स्टोरीज का एक अट्रैक्टिव इमेज बनाकर, गूगल न्यूज और डिस्कवर मे अपने ब्लॉग को सबमिसन करे।

अलग-अलग सर्च इंजन पर भी वेबसाइट को सबमिसन करें। जैसे:

Google

Bing

Yandex

Yahoo

Baidu

DuckDuckgo

सोशल मीडिया पर भी शेयर करके ट्रैफिक ला सकते है। जैसे:

Instagram page

Facebook page

Twitter

WhatsApp group

LinkedIn Quora

Telegram group

आज आपने क्या सीखा

मुझे पूरा उम्मीद है कि Blogging Kya hai, कैसा लगा। आपको लगता है कि ब्लॉगिंग से संबंधित कुछ रह गया है तो comment करना ना भूले। जिससे मैं इस लेख को और भी बेहतर लिख सकूँ। इसे अपने दोस्तों को शेयर करना ना भूले ताकि वह भी ब्लॉगिंग सीख सके। धन्यवाद!!

Leave a Comment